poetry

Allow Yourself

Allow Yourself

Allow yourself not to be okay sometime, Allow yourself to be joyous without any reason or rhyme Allow yourself to be happy each day Allow yourself not to get disturbed by what people say Allow yourself to make mistakes and learn from them Allow yourself to be coal and be polished like a gem Allow …

Allow Yourself Read More »

Rishta

Rishta – Nibh Jaye to Baat Kya!

कहीं नहीं मिलते, कहीं ख़रीदे नहीं जा सकते कहीं से ढूंढे नहीं जाते कहीं से उग के नहीं आते यह बनते है इंसानो से कुछ बनते है म

grandmother_granddaughter

Meri Dadi

मेरी दादी जैसे सीप में मोती वैसे दादी और पोती मैं उनकी नन्ही परी और प्यारी रसभरी| Jaise seep mein  moti, vaise dadi aur poti. Mein unki nanhi pari, aur pyaari rasbhari. फल लाती, दूध लाती, गेंद लाती, झूला झुलाती| गो़द में सुलाती, लोरी भी सुनाती, मेरे पापा-मम्मी से मुझे बचाती, मुझे खूब हँसती हँसाती …

Meri Dadi Read More »

Phaag

Phaag

फागुन की ऋतू आई सखी रे, जियरा लुभाए सखी रे, महक उठी फूलों की फुलवारी, कुहुक उठी कोयल मतवारी| Phagun ki ritu aaye sakhi ri, Jiyara lubhaye sakhi ri, Mahak uthi phoolon ki phulwari, Kuhuk uthi koel matwari. हरे हरे खेत लहर लहर लेहेराएँ, गेहूं की बाली शर्माए, सरसों पीली सरस बरसाए, देख देख किसान …

Phaag Read More »

Scroll to Top